Dost ki Mummy Bohot sexy hai

loading...

Dost ki Mummy Bohot sexy hai

मैं एक बहुत सीधा और शर्मीला लड़का हूँ और मेरे दोस्त हमेशा मुझे इस बात के लिये डाटते रहते है मेरा एक बेस्ट फ्रेंड हे सुनील जिसकी फेमिली एक महाराष्ट्रिया है.सुनील वो मुझे हमेशा इस बात के लिये डाटता रहता है बोलता रहता है तू इतना सीधा है तो तेरा क्या होगा भाई सुनील की जनरल स्टोर की शॉप है सुनील के पापा मंगेश एक गावं में इम्प्लॉय है और उसकी माँ अनुराधा एक हाउस वाइफ है पर टाइम पास करने के लिए आंटी स्टोर मे बैठती है.

Hindi chudai kahani सुनील के पापा मम्मी बहुत अच्छे लोग है हमेशा मेरे बारे मे पूछते रहते है वो मुझे अपने बेटे जैसा ही मानते है मैं हमेशा सुनील से मिलने उसके घर जाता हूँ अगर वो घर पर नही होता है तो उसके स्टोर पर मिलने जाता हूँ कभी कभी अगर वो स्टोर मे नही होता है तो उसकी माँ से टाइम पास करने के लिये बाते करता हूँ पर आज तक मैने उसकी माँ के बारे मे कुछ ग़लत नही सोचा था पर उसकी माँ बहुत सुंदर है उसके बूब्स 32 के साइज़ के है और उनकी गांड बहुत बड़ी है 38 की होगी और उनके बाल बहुत बड़े है.

hindi antarvasna kahani अब मैं अपनी स्टोरी पर आता हूँ ये एक सच्ची स्टोरी है बात मेरे बर्थ डे के एक महीने पहले की है मैं सुनील से मिलने के लिये उसके घर गया था मुझे पी.सी के लिये कुछ काम था तो पर उसके घर गया तो उसके घर पर लॉक था तो मैं उसके स्टोर पर गया अमोल वहा भी नही था. तो मैं आंटी से बात करने लगा आंटी से पूछा “सुनील कहा गया है उसका फोन भी स्विच ऑफ आ रहा है” तो आंटी ने जवाब दिया “सुनील  तो बाहर गावं गया है और कल वापस आने वाला है” तो मैंने अनु आंटी से कहा “तो मैं चलता हूँ” तो आंटी बोलने लगी थोड़ी देर रुक जा में भी बहुत बोर हो रही हूँ.

मैं अनु आंटी से बात करने लगा अनु मेरे परिवार के बारे मे और क्लास के बारे मे पूछ रही थी तो मैने भी जल्दी जवाब दिया. अनु पूछ रही थी की “सूरज तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नही है क्या” तो मैने कहा “नही आंटी मुझे ये सब पसंद नही है जो मेरे परिवार वाले मेरे लिये लड़की देखेगे मैं उसी से शादी करूगां तो अनु ने कहा “अमोल तेरे बारे मे जो बताता है वो सब सच है तू बहुत सीधा है पर गर्लफ्रेंड रखना कोई बुरी बात नही है आज कल तो सब के पास कोई ना कोई गर्लफ्रेंड होती है अब देख अमोल की गर्लफ्रेंड है तो हम उससे कुछ नही बोलते है आज के ज़माने में ये सब चलता है बेटा अचानक अनु की साड़ी का पल्लु गिर गया और मुझे उनकी क्लीवेज (बूब की बीच जगह) दिख गयी तो अनु ने जल्दी से पल्लु ठीक किया और मैने अनु आंटी से कहा मैं चलता हूँ और में वहा से निकल गया पर मेरे घर जाने तक मुझे अनु के बूब ही दिख रहे थे

मैने खुद पर बहुत कंट्रोल किया पर मुझसे नही हुआ तो मैने घर जा कर मूठ मारी तो पूरा दिन मुझे अनु के बूब ही दिख रहे थे कुछ दिनो के बाद अनु मेरे घर मेरी मम्मी से बात करने आई उस टाइम मैं नहा रहा था नहाने के टाइम मुझे अनु के बूब याद आ रहे थे तो मेरा लंड खड़ा होते जा रहा था मैने तो टावल पहना और बाहर आ गया मुझे नही पता था अनु मेरे रूम मे बैठी है मैंने अपने रूम मे जाते ही टावल निकाल दिया टावल निकलते ही अनु ने मुझे देख लिया और चिल्लाई बेशर्म टावल पहन ले तुझे पता नहीं है क्या में यहा बैठी हूँ” तो मैने जल्दी से टावल पहन लिया पर मेरे गाल शर्म के मारे लाल हो गये थे तो अनु उठी और डोर का लॉक ओपन करने लगी तो मुझे उनकी नाभी (पेट का सेंटर पॉइंट) दिखा तो मेरा लंड फिर से खड़ा होने लगा मैंने खुद पर कंट्रोल किया और डोर ओपन करने मे हेल्प करने लगा.

desi anuty sleeping half nude north aunty

hindi sex story beta thoda peeth me hath lagao ge mera hath nahi pohoch raha hai

मैं अनु के पीछे से डोर ओपन करने मे हेल्प कर रहा था तो मेरा लंड अनु की गांड को लग रहा था मैने डोर ओपन कर के दिया और अनु वहा से जाने लगी अनु ने जाते टाइम मेरी तरफ देखा और मुझे गाल पर किस करके चली गयी मुझे कुछ समझ मे नही आ रहा था अनु ने ऐसा क्यों किया मैं अनु से पूछना भी चाहता पर टाइम ही नहीं मिला फिर कुछ दिन ऐसे ही निकल गये 16 तारीख की शाम को मैं अमोल से मिलने घर गया तो अंकल ने कहा वो और अनुराधा स्टोर मे गये है तो मैं वहा चला गया अमोल से मिला और अनु को देखता ही रह गया अनु ने काले कलर की साड़ी पहनी थी और बाल खुले थे.मेरी नज़र अनु के बूब पर ही थी अनु मेरी और देख कर स्माइल कर रही थी अमोल ने कहा तेरा ध्यान कहा है तू कुछ दिनो से कुछ अलग ही रहने लगा है मैने उसकी बात पर ध्यान नही दिया और कहा चल ना तो अमोल ने कहा की मुझे कैमरा लेना है तो अनु ने कहा कैमरा क्यों ले रहा है तो अमोल ने कहा कल सूरज का बर्थ डे है इसलिये और में बोलने लगा “सॉरी सूरज कल मेरा बैंक का पेपर है तो मुझे नागपुर जाना होगा” तो मैने कहा कल तो बकरा ईद है कल तेरा कौनसा पेपर” है तो अमोल ने मुझे आँख मारी मैं समझ गया की वो अपनी गर्लफ्रेंड को लेकर कही बाहर जा रहा होगा Hindi chudai kahani

फिर हम वहा से निकल गये और सोनी के शोरुम मे जा कर कैमरा लिया और फिर हम रिटर्न अमोल के स्टोर मे गये वहा जाकर मैने अनु को कैमरा दिखाया और कुछ फोटो निकाले अनु ने पूछा तुझे बर्थ डे मे क्या चाहिये बता मैं तुझे लेकर दूंगी तो मैंने कुछ नही चाहिये ऐसा कहा अमोल ने अचानक कहा मम्मी इसे जो चाहिये वो किसी लड़की से ही मिल सकता है तो मैंने अमोल को चुप करा दिया तो अनु फोर्स करके पूछने लगी क्या चाहिये तो अमोल ने कहा मेरे भाई को अपनी इज्जत खोनी है बर्थ डे के दिन इसकी हमेशा ऐसी ही इच्छा है तो अनु हंसने लगी तो मैने कहा आंटी ऐसा कुछ नही है ये तो कुछ भी बोलते रहता है और मैं वहा से निकल गया.रात के 12 बजे मुझे सभी फ्रेंड्स के कॉल आये और सब ने बर्थ डे विश किया अमोल का कॉल लास्ट मे आया और बर्थ डे विश किया और बोलने लगा मैं अपनी गर्लफ्रेंड से बात कर रहा था और कहा ले मम्मी से बात कर अनु ने मोबाइल लिया और मुझे बर्थ डे विश किया और कहा कल 1 बजे घर आना मैंने हाँ कहा और फोन रख दिया. 17 तारीख को मैं अनु से मिलने गया तो अनु को देखता ही रह गया उसने सफ़ेद गाउन पहन रखा था और शायद अनु ने ब्रा नही पहने थी और में घर के अंदर गया और पूछा अंकल कहा है तो वो बोलने लगी वो अपने फ्रेंड के घर गये है आज ईद है तो शायद वाइन पीने गये होगे और लेट ही घर पर आयेगे तो मैंने अनु से कहा आंटी मुझ से काम था आपको तो अनु ने कहा सूरज प्लीज मुझे आंटी मत बोलते जाओ अनु बोलते जाओ तो मैने कहा नही आप मेरे फ्रेंड की माँ हो तो मेरी भी माँ हो और माँ को नाम से नही बोलते है तो अनु ने कहा अच्छा माँ के बूब तो देखे जाते है क्या ये सुनते ही मेरी हालत खराब हो गयी मैंरे मुँह से कुछ शब्द ही नही निकल रहे थे अनु ने दरवाजा लॉक किया और मेरे पास आ कर खड़ी हो गयी Hindi chudai kahani.

मैने कहा आपको कैसे पता चला अनु ने बोला पहले बोलो अनु तूमे कैसे पता चला मैने भी वैसा ही कहा अनु ने कहा सूरज मुझे तुम बहुत पसंद हो तुम्हारा भोलापन मुझे बहुत पसंद आता है और मुझे लीप किस करने लगी मैं चुपचाप खड़ा था मुझे कुछ समझ मे नही आ रहा था की क्या चल रहा था अनु फिर मुझसे अलग हो गयी और दूसरे रूम मे चली गयी मैं मन ही मन खुश हो रहा था पर कुछ समझ नही रहा था 10 मिनिट के बाद अनु रूम से बाहर निकली उसने वो काली साड़ी पहन ली थी और वो मेरे लिये केक लेकर आई थी.मैने कहा आइ लव यू अनु सो मच अनु छोटी स्माइल दे कर मेरे पास बैठ गयी फिर मैने केक कट किया और उसके मुँह के पास लेकर गया तो अनु ने मेरे हाथ पर काटा और कहा यू रियली लव मी ना मैंने हाँ मे सर हिलाया और नीचे देखने लगा तो अनु ने मेरा मुँह अपने हाथ मे लिया और उपर करके किस करने लगी मैं भी किस करने लगा अनु ने कहा “मुझे चोदो ना प्लीज मैने तुम्हारा लंड देखा है वो तो बहुत बड़ा है और मैं भी 2 साल से चुदी नही हूँ तुम्हारे अंकल मुझे चोदते ही नही है अब उनका लंड खड़ा ही नही होता है तो मैने कहा मुझे इस बारे मे कुछ ज्यादा पता नही है अनु प्लीज तुम ही मुझे बताओ तो अनु मुझे किस करने लगी और मेरे लिप्स पर काट रही थी और मैं भी वैसे ही करते रहा 10 मिनिट के बाद अनु ने मेरा शर्ट निकाला और छाती पर किस करती रही Hindi chudai kahani.

फिर मेरी जीन्स की चेन खोली और मेरी चड्डी को साइड मे करने की कोशिश करने लगी पर मेरा लंड खड़ा था इसलिये नही हो रही थी तो अनु फिर से मेरे लीप पर आ गयी और किस करने लगी और मुझे खड़ा किया और नीचे हाथ से जीन्स की बटन खोलने लगी और जीन्स को नीचे करके अंडरवेयर पर से लंड को सहलाने लगी मैं जोश मे आते ही जा रहा था तो मैने उसके बाल खोल दिये और और उसके ब्लाउज के पीछे से हुक खोलने लगा और उनके ब्रा के उपर से ही हाथ फैरने लगा तो अनु ने कहा जल्दी हुक खोलो मैंने खोले तो अनु पीछे हट गयी और ब्लाउज के साथ ब्रा निकाल कर फेक दिया और कहा ऐसा करना पडता है मी लव मैं उसके बूब देख कर पागल होने लगा और उसके बूब ज़ोर ज़ोर से चूसने लगा अनु बोलने लगी तू जानवर है क्या मुझे दर्द हो रहा है तो मैं पीछे हटा और सॉरी बोलने लगा तो अनु ने कहा पागल है क्या सॉरी क्यों बोल रहा है अच्छा तुझे जैसे चूसना चूस मी लव.फिर किस करते करते मेरा लंड पकड़ लिया और फिर मैं और भी ज़ोर से बूब चूसने लगा अनु के मुँह से सिर्फ़ सस्शह निकल रहा था और दर्द के मारे कराह रही थी उसने अपनी आँखे भी बंद कर ली थी और फिर मेरा लंड पकड़ कर मुझे बेडरूम मे ले कर गयी वहा मुझे बेड पर लेटा कर मेरे ऊपर चड गयी और छाती पर किस करने लगी तो मैने कहा अनु डार्लिंग मेरा लंड चूसो ना तो नही बोलने लगी तो मैने कहा आज मेरा बर्थ डे है प्लीज तो अनु डार्लिंग ने हल्की सी स्माइल दी और मेरी अंडरवेयर नीचे की और मेरा लंड चूसने की कोशिश करने लगी पता नही क्यों Hindi sex story.

फिर अनु ने मेरे लंड पर से ज़ुबान फेरी और मेरी तरफ देखने लगी मुझे बहुत अच्छा लग रहा था मैने उसका सर पकड़ कर लंड के उपर रख दिया और वो लंड मुँह मे लेने लगी मै भी उसका सर पकड़ कर उपर नीचे करने लगा फिर मैने उसे उपर किया और उसकी गांड दबाने लगा और अनु को साइड मे लेटा दिया और उसके पेरो (लेग्स) को फोल्ड करके उसकी साड़ी के अंदर घुस गया और उसकी पेंटी के उपर से ही ज़ुबान फेरने लगा वो सिर्फ़ सस्शहस्स करने मे बिज़ी थी. अनु उठी और साड़ी निकाल कर साइड मे रख दी अब सिर्फ़ अनु के जिस्म पर काली पेंटी रह गयी थी.मैं अनु को देखने के अलावा और कुछ नही कर रहा था अनु ने कहा जान क्या देख रहा है पहले किसी को ऐसा नही देखा है क्या मैंने नही मे सर हिलाया अनु ने कहा जान तेरे लिये एक और सर्प्राइज़ है और उसने पेंटी को थोड़ा नीचे किया तो मैं अचानक उसके पास चला गया और उसके लिप्स को काटने लगा और अनु मेरे बाल पकड़ कर मुझे किस करने लगी और हम बेड पर गिर पड़े फिर मैं उसे किस करते करते नीचे जा रहा था तो मैं अनु की चूत के पास पहुचं गया और उसकी पेंटी को नीचे करने लगा तो अनु ने अपनी पेंटी को पकड़ लिया और आँखो से इशारे करने लगी और फ्लाइयिंग किस करने लगी मैं उसकी पेंटी नीचे करने की कोशिश करने लगा तो अनु ने कहा सूरज मेरी जान तुझे तो इस बारे मे ज्यादा नही पता था ना तो मेरी पेंटी क्यों निकाल रहा है.

मैंने शर्म के मारे सर नीचे कर लिया तो अनु ने कहा ले निकाल ले मेरी पेंटी मी लव और गांड उपर करने लगी तो मैने पेंटी निकाल ली और में देखता ही रह गया उसकी चुद पर एक भी बाल नही था तो अनु ने कहा जान मैने तेरे लिये ही चूत साफ की है तुझे पसंद आई ना मैने कुछ नही कहा और अनु की चूत मे ज़ुबान डाल दी अचानक अनु के मुँह से आई निकल गया तो मुझे बहुत मज़ा आया तो फिर मै और ज़ोर से चाटने लगा तो अनु ने मेरा सर पकड़ लिया और चूत के उपर दबाने लगी और मैं ज़ुबान से उसके क्लाइटॉरिस (चूत का पार्ट जो उपर होता है) खेल रहा था.अनु ज़ोर ज़ोर से मेरा सर चूत पर दबा रही थी अनु का स्पर्म निकलने लगा तो उसने मेरा सर पकड़ कर के और कहा आइ लव यू और ज़ोर से चाटो ना तो में फिर से करने लगा अनु बोलने लगी सूरज अब मुझसे कंट्रोल नही हो रहा है प्लीज लंड मेरी चूत मे डालो तो मैने लंड हाथ मे लिया और थोड़ा हिलाया तो वीर्य निकल रहा था मैंने लंड ज़ोर से हिलाया और लंड लोहे जैसा हो लगा मैंने अनु की चूत पर लंड रखा तो लंड नीचे सरक गया मैने 2-3 बार ट्राइ किया पर लंड जाने का नाम ही नही ले रहा था तो मैने अनु से कहा अनु डार्लिंग नही जा रहा तो अनु मेरी तरफ बड़ी प्यार से देखने लगी और मेरा लंड पकड़ कर चूत के अंदर डाल दिया और कहा अब शॉर्ट मारे जा मैं थोड़ा पीछे हुआ और ज़ोर से धक्का मारा तो अनु ने अपने हाथ के नाख़ून मेरी पीठ मे चुभा दिये और अपने पेरो को फोल्ड करके मेरी गांड पकड़ ली और कहने लगी जान इतनी भी ज़ोर से मत करो मैं बहुत दिनो बाद चुद रही हूँ और अनु की आँख से आसूं निकलने लगे तो मैं थोड़ा डर गया hindi mastram ki stories.

अनु मेरी गांड पकड़ कर खुद ही चुद रही थी तो मैंने भी धक्के मारने स्टार्ट कर दिये और अनु के लिप्स पर किस करने लगा अनु ने फिर से मेरी पीठ पकड़ ली और पेरो को मेरी गांड पर फोल्ड कर दिये थे और दूसरी बार अनु का पानी निकल रहा था मैने अनु को पकड़ कर धक्का मारा और अनु को अपने उपर कर लिया अब मैं लेटा था और अनु मेरे उपर बैठी थी और खुद ही उपर नीचे हो रही थी मैं उसे देख रहा था तब अनु ने मेरे हाथ पकड़ कर अपने बूब पर रखे और दबाने को कहा मैं बूब पकड़ कर उसे उपर नीचे कर रहा था अनु डार्लिंग ने फिर से आँखे बंद कर ली और ज़ोर ज़ोर से उपर नीचे होने लगी hindi antarvasna kahani.

तो मैं पीठ के बल उठा और उसके बूब मुँह मे ले लिये और उसकी गांड पकड़ कर अनु को ऊपर नीचे करने लगा मैं समझ गया की उसका पानी निकलने वाला है तो मैने अपनी स्पीड बड़ा दी पर अब मेरा भी पानी निकलने वाला था तो मै अनु के लिप्स पर किस करने लगा पर उसने मेरे लिप्स मुँह मे ले लिये थे और काटने लगी और हमारा एक साथ पानी निकल गया और मैं लेट गया और अनु डार्लिंग मेरे उपर लेट गयी और मैने उसे बाहो मे ले लिया और कहा” आइ लव यू अनु तो उसने भी “आइ लव यू टू” कहा और मेरे उपर से ही अपने हाथो से पेंटी पहनने लगी तो मैं उसके पीछे गया और धन्यवाद बोलने लगा.तो उसने कहा अभी मत बोलो अभी तो तुम मेरी गांड भी मारोगे जान और कहा “जान तुम्हारा लंड का साइज़ क्या है” तो मैने कहा मुझे नही पता है तो थोड़ी देर बाद बैठने के बाद अनु ने एक प्लास्टिक स्केल से मेरे लंड को नापा के देखा तो 14.5 C.M आया और वो बोलने लगी तुम सच मे बहुत अच्छा चोदते हो प्लीज मुझे ऐसे ही रोज़ चोदते जाओ ना मैने हाँ मे सर हिलाया और उसे लीप किस करने लगा. मैने कहा मेरा बर्थ डे गिफ्ट बहुत अच्छा है .

loading...

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *